कोलकाता मेट्रो में दर्दनाक हादसे का शिकार हुआ यात्री

  • एक हाथ गेट के अंदर फंसा और घसीटते हुए यात्री को सुरंग के अंदर ले गयी ट्रेन
  • गंभीर रूप से जख्मी होने के कारण एसएसकेएम अस्पताल में ले जाने पर हुई मौत
  • पार्क स्ट्रीट मेट्रो में शनिवार शाम की घटना, डेढ़ घंटे में सामान्य हुई सेवा

कोलकाता: कोलकाता मेट्रो रेलवे के इतिहास में शनिवार की शाम को काले दिन के रुप में देखा जायेगा। इस दिन एक यात्री के हाथ को ट्रेन के गेट में फंसे हालत में ट्रेन उसे घसीटते हुए सुरंग के अंदर ले गई। गंभीर हालत में उसे चोट लगने के कारण यात्री को अस्पताल ले जाने पर वहां उसकी मौत हो गई। मृत यात्री की पहचान सजल कांजीलाल (66) के रूप में हुई है। वह कसबा के बोसपुकुर रोड का रहनेवाला था। खबर पाकर मेट्रो के वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा डीसी (साउथ) मिराज खालिद वहां पहुंचे। इस मामले में मेट्रो रेलवे की प्रमुख जनसंपर्क अधिकारी इंद्रानी मुखोपाध्याय ने बताया कि शाम 6.43 बजे के करीब वह यात्री सीसीटीवी कैमरे में कवि सुभाष की तरफ जा रही मेट्रो के तीसरे कमरे के अंदर प्रवेश करने की कोशिश करते देखा गया। इसी बीच गेट बंद होने के कारण यात्री ने एक हाथ अंदर देकर गेट को खोलने की कोशिश की, लेकिन गेट नहीं खुलने के बजाय उसका हाथ गेट में फंस गया और इसी बीच मेट्रो आगे बढ़ने लगी।

वहीं इस घटना के दौरान ट्रेन के कमरे के अंदर बैठे यात्री काफी जोरशोर से चीखने लगे, लेकिन तबतक ट्रेन के सामने की तीन बॉगी सुरंग के अंदर प्रवेश कर चुकी थी और यात्री भी प्लेटफॉर्म में गिरकर घसटाते हुए ट्रेन के कमरे के साथ सुरंग के अंदर चला गया। पटरियों में गिरने के कारण उसे गंभीर चोट आयी। जिससे उसकी घटनास्थल में ही मौत हो गई। इसी बीच ट्रेन को रोककर बाकी यात्रियों को वहां से बाहर निकाला गया। मेट्रो रेलवे प्रबंधन की तरफ से इस घटना की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिये गये हैं। पूरे मामले में राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बताया कि मेट्रो रेलवे की बदहाल स्थिति काफी पहले से है, केंद्र सरकार इसपर कोई ध्यान नहीं दे रही, इसी का यह नतीजा है। राज्य सरकार पीड़ित परिवार के साथ है, इस मामले में जरूरत पड़ी तो राज्य सरकार पीड़ित परिवार के एक सदस्य को नौकरी भी देगी। इस घटना के डेढ़ घंटे बाद स्थिति सामान्य कर दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!