बीजेपी के 11 करोड़ कार्यकर्ताओं के कठिन परिश्रम की विजय है: अमित शाह

नई दिल्ली। भाजपा को मिली प्रचंड बहुमत के बाद अध्यक्ष अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जीत की बधाई दी। उन्होंने कहा कि आज देश के अंदर आजादी के बाद सबसे बड़ी ऐतिहासिक विजय नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में बीजेपी को प्राप्त हुई है, यह हम सबके लिए गौरव की बात है। उन्होंने आगे कहा कि 5 साल के अंदर नरेंद्र मोदी सरकार ने देश के 28 करोड़ गरीब परिवार का जीवन स्तर उठाने के लिए सार्थक कदम उठाए। बीजेपी को मिले आशीर्वाद पर शाह ने कहा कि देश के 17 प्रांतों की जनता ने 50 प्रतिशत से ज्यादा आशीर्वाद हमें दिया है।

जीत को जनता की जीत बताते हुए शाह ने कहा कि ये बीजेपी के 11 करोड़ कार्यकर्ताओं के कठिन परिश्रम की विजय है। ये विजय बीजेपी की मोदी सरकार, जिसने 2014-2019 तक सबका साथ-सबका विकास की नीति से काम किया, ये उस नीति की विजय है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पांच साल के अंदर नरेन्द्र मोदी सरकार ने देश के 50 करोड़ गरीब परिवारों का जीवन स्तर उठाने के लिए आजादी के 70 साल के बाद पहली बार सार्थक कदम उठाए। करोड़ों गरीब परिवारों का आशीर्वाद उनका जनसमर्थन हमारी विजय का संबल बना है।

एग्जिट पोल का उल्लेख करते हुए शाह ने कहा कि आज जब जनादेश आया तो एग्जिट पोल से भी ज्यादा सीटें भाजपा को मिली। कई मायने में यह जीत ऐतिहासिक है। 50 साल के बाद पहली बार देश में पूर्ण बहुमत से शासन करने वाला प्रधानमंत्री, दोबारा पूर्ण बहुमत के साथ प्रधानमंत्री बनने जा रहा है। यह सम्मान हम सबके लोकप्रिय नेता, बीजेपी के लोकप्रिय नेता नरेन्द्र मोदी जी को मिला है।

इसी बीच अमित शाह ने महागठबंधन को आड़े हाथों लिया और कहा कि उत्तर प्रदेश के अंदर सपा-बसपा दोनों इकट्ठा हुए तो पूरे देश के मीडिया का कहना था कि उत्तर प्रदेश में क्या होगा? यह प्रचंड विजय दर्शाती है कि आने वाले दिनों में परिवारवादी पार्टियों का कोई महत्व नहीं रहने वाला है। साथ ही साथ शाह ने ममता बनर्जी पर भी निशाना साधा और कहा कि बंगाल के अंदर इतने जुर्म और अत्याचार के बाद भी 18 सीटें भाजपा ने जीती और पांच विधानसभा के चुनाव थे, 5 विधानसभा में से 4 विधानसभा भारतीय जनता पार्टी की झोली में आई। ये बताता है कि आने वाले दिनों में बंगाल के अंदर भाजपा वर्चस्व स्थापित करने वाली है। चंद्रबाबू नायडू द्वारा विपक्षी नेताओं से मुलाकात का भी उल्लेख करते हुए शाह ने कहा कि अगर नायडू ने इतनी मेहनत प्रदेश में की होती तो कुछ सीटें तो मिल जाती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!